सोमवार, 30 मार्च 2015

ये नाम क्यों?

ब्लॉग का नाम सोचते समय बस ऐसे ही बचपन में सुना "ईचक दाना बीचक दाना" गीत याद आ गया और सोचा कि क्यों न इस ब्लॉग का नाम यही रख दिया जाय? बच्चों, हो सकता है कि तुमने राज कपूर का नाम अपने मम्मी-पापा के मुँह से सुना हो. वो एक बहुत बड़े फिल्म मेकर थे. उन्होंने बहुत सी फ़िल्में बनाईं. "श्री 420" भी उन्हीं की फिल्म है. उसी फिल्म का गाना है "ईचक दाना बीचक दाना." इसे लता मंगेशकर जी और मुकेश जी ने मिलकर गया है. बड़ा मज़ेदार गीत है. आपको उस गाने के ओरिजिनल वीडियो के साथ-साथ एनिमेटेड वीडियो भी दिखा रही हूँ. यह वीडियो सारेगामा कम्पनी के YOUTUBE के चैनल पर उपलब्ध है.





4 टिप्‍पणियां:

  1. आप ने बहुत सुंदर भेंट बच्चों के साथ साथ हम बड़ो को भी दी है। आप का बहुत बहुत साधुवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर गीत ... मुझे राह कपूर जी की फिल्म "मेरा नाम जोकर" का गीत तीतर के दो आगे तीतर... याद आया

    उत्तर देंहटाएं

प्रतिक्रियाओं, संदेशों और सुझावों का स्वागत है. टिप्पणी में मोडरेशन स्पैम से बचने के लिए लगाया गया है. पिछले दिनों कुछ आपत्तिजनक टिप्पणियाँ ब्लॉग पर पोस्ट कर दी गयी थीं. ये बच्चों का ब्लॉग है और ऐसी अभद्र भाषा का प्रयोग अनुचित है अतः टिप्पणी अनुमति के बाद ही प्रकाशित की जायेगी.